Emergency Alert से भारत सरकार ने किया एक नई शुरूआत| आपातकालीन स्थिति में इस अलर्ट सिस्टम से मिलेंगे फायदे।

भारत सरकार ने हाल ही में लोगों को आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए एक ट्रायल किया है जो Emergency Alert  है पिछले कुछ दिनों से यह ट्रायल शुरू है। जिससे लोगो के बीच Emergency Alert का मैसेज उनके स्मार्टफोन पर जा रही है।

इमरजेंसी अलर्ट का मतलब होता है कि किसी अचानकी और गंभीर स्थिति के लिए तत्परता की आवश्यकता है और लोगों को त्वरित क्रियान्वित करना चाहिए। यह अलर्ट सामाजिक सुरक्षा, स्वास्थ्य, प्राकृतिक आपदा, युद्ध, या अन्य बड़ी आपदाओं के लिए जारी की जा सकती है।

इमरजेंसी अलर्ट का स्रोत सरकारी एजेंसियों, जैसे कि राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री के ऑफिस, पुलिस, फायर डिपार्टमेंट, या जिला प्रशासन हो सकती है। यह अलर्ट विभिन्न माध्यमों के जरिए, जैसे कि टेलीविजन, रेडियो, सोशल मीडिया, एसएमएस, आदि के माध्यम से लोगों को सूचित किया जा सकता है।

जब इमरजेंसी अलर्ट जारी की जाती है, तो लोगों को उसकी जानकारी का ध्यान रखना चाहिए और उसके अनुसार कार्रवाई करनी चाहिए। अगर आप किसी इमरजेंसी अलर्ट का सामना करते हैं, तो सबसे पहले सुरक्षित स्थान की ओर जाएं और आदर्शतः सरकारी संदेशों और निर्देशों का पालन करें।

-Advertisement-

Emergency Alert on Mobile Phones

पिछले पांच छह दिनों से यह मैसेज भारत के सभी लोगों के मोबाइल पर आ रही है इस मैसेज में एक तीव्र साउंड के साथ इमरजेंसी अलर्ट का जानकारी दे रहा है। यह मैसेज सभी के स्मार्टफोन पर जा रही  है जो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है।

इस Emergency Alert का मेसेज आने के बाद सोशल मीडिया पर एक अलग ही माहौल बनाए हुए  है। और कई लोगो का कहना की उनका फोन किसी ने हैक कर लिया है या फोन का एक्सेस किसी और का हो गया है लेकिन इस बात में थोड़ी सी भी सच्चाई नहीं है।

Read also  Sonpur Mela: कहां लगता है सोनपुर मेला | सोनपुर मेला कब लगता है|

इस से पहले कई देशों में यह सेवा सरकार के द्वारा संचालित किया जाता है जो लोगों  को आपातकालीन स्थिति में उससे बचने की जानकारी देती है।

Emergency Alert में साफ साफ लिखा हुआ है अलर्ट भेजने का उद्देश।

इस Emergency Alert  मैसेज में साफ  लिखा हुआ है की “यह मैसेज भारत सरकार के दूरसंचार विभाग द्वारा सेल ब्रॉडकास्टिंग सिस्टम के माध्यम से भेजा गया एक नमूना परीक्षण संदेश है कृपया इस संदेश पर ध्यान ना दें क्योंकि इस पर आपकी ओर से किसी कार्रवाई की आवश्यकता नहीं है यह संदेश राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे अखिल भारतीय आपात अलर्ट सिस्टम को जचने हेतु भेजा गया है इस सिस्टम का उद्देश्य सार्वजनिक सुरक्षा बढ़ाना और आपात स्थिति के दौरान समय पर अलर्ट प्रदान करना है।”

Emergency Alert

ऐसे मैसेज आने पर बिलकुल न घबराए इस मैसेज से किसी का भी फोन हैक नहीं होगा या उनके फोन का निजी जानकारी भी किसी के पास नहीं जाएगा यह एक ट्रायल सिस्टम है जो सरकार हमें इमरजेंसी में बचने के लिए कर रही है।

क्यों जरूरी है Emergency Alert Message System

उदाहरण के तौर पर आपको बता रहे हैं कि कभी-कभी भूकंप आता है और हमें पता भी नहीं चलता है की भूकंप आया या  आने वाला है। इससे पहले भी नेपाल के काठमांडू में भूकंप आया था जिसका मुख्य केंद्र नेपाल ही था लेकिन उस भूकंप के आने से पहले वहां के लोगों को किसी तरह का इमरजेंसी अलर्ट मेसेज नहीं भेजा गया था। जिससे लोगों को काफी डर का सामना करना पड़ा अगर उसे समय यह इमरजेंसी अलर्ट सेवा नेपाल में होती तो उस समय नेपाल के लोगों को आपातकालीन स्थिति का पता पहले ही  हो जाता जिससे वह बचने का प्रयास करते।

Leave a Comment