Bihar Budget 2022-2023

कितना बदलेगा बिहार इस बार के बजट से।

28 फरबरी को बिहार विधानसभा में 2022-23 की बिहार का बजट पेश किया गया। बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने यह बजट पेश किया। 2021-22 के मुकाबले इस बार बिहार का बजट 2,37,691 करोड़ का पेश किया गया वही बात करें पिछले वित्त वर्ष की 2.18 लाख करोड़ का बजट पेश किया गया था

Bihar Budget 2022-2023
-Advertisement-

महत्वपूर्ण विभागों के ये है बजट

इस बार के बजट में सबसे ज्यादा जोर शिक्षा पर दिया गया है बता दें कि शिक्षा पर कुल 16.5 फ़ीसदी बजट का इस्तेमाल किया जाएगा।

बिहार सरकार शिक्षा के क्षेत्र में कुल 39,191 करोड रुपए खर्च करेगी वहीं स्वास्थ्य के क्षेत्र में 16,134 करोड का बजट दिया गया ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए 15,456 करोड़ का बजट पेश किया गया।

वही मकान नवीकरण और विस्तार के लिए 14,372 करोड़ का बजट पेश किया गया। कृषि सुधार और कृषि के क्षेत्र में कुल 7,712 करोड़ रुपए का दिया गया।

अधिक जानकारी के लिए यह क्लिक कीजिए।

इसी तरीके से और भी कई योजनाओं के बजट पेश किया जाए जिसमें सबसे अधिक चर्चित ग्रामीण क्षेत्रों में हो रहे  हर घर नल का जल योजना बिहार सरकार ने इस नए वित्तीय वर्ष में 1.10 करोड़ का प्रावधान बजट में किया है।

पर्वतीय क्षेत्रों का होगा निर्माण

बिहार विधानसभा बजट में छह रोप पर परियोजना प्रेतशिला पर्वत, डुंगेश्वरी पर्वत, वानवर पर्वत जहानाबाद, मुंडेश्वरी पर्वत कैमूर , ब्रह्योनी पर्वत गया और रोहतासगढ़ किला रोहतास का प्रावधान किया गया हैं।

गया जिले के डुंगेश्वरी पर्वत पर भगवान बुद्ध और फल्गु नदी में भगवान विष्णु की विशालकाय मूर्ति स्थापित किया जाएगा। विभिन्न वर्गों के कल्याण के लिए कुल 12,375 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

Read also  How to buy bitcoin on etoro? Make Money With Bitcoin

पक्ष विपक्ष टिप्पणी

बजट के पेश होने के बाद पक्ष और विपक्ष के नेताओं ने अपनी अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने कहा कि यह बजट वर्तमान समय के 6 सूत्रों को आधार बनाकर पेश किया गया है।

इसमें स्वास्थ्य, उद्योग और उद्योग में निवेश ,कृषि और संबद्ध क्षेत्र, आधारभूत संरचना तथा विभिन्न वर्गों के कल्याण पर आधारित है जो राज्य सरकार का लक्ष्य रहा है।

वहीं विपक्षी दलों के नेता ने इस बजट का पूरी तरह से विरोध करते हुए विधान सभा से वॉकआउट किया। आरजेडी के महुआ से विधायक मुकेश रोशन ने मीडिया को दिए गए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि यह बजट बिहार के युवाओं के साथ फिर से धोखा देने का काम किया है।

19 लाख रोजगार का झांसा देकर सत्ता में आई सरकार ने इस बजट में भी युवाओं के लिए कुछ नहीं दिया शिवाये झुनझुना के। बिहार की इस सरकार को कभी माफ नहीं करेगी 17 साल से रह रहे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रोजगार के सारे अवसर को खत्म कर दिया है और इस बार के बजट में भी उन्होंने रोजगार के क्षेत्र में ऐसी कोई महत्वकांक्षी योजनाओं का ऐलान नहीं किया और ना ही कोई नई भर्तियों बजट पेश किया।

Leave a Comment